वृश्चिकासन की विधि और लाभ

वृश्चिकासन की विधि | Vrischikasana Steps

जमीन पर लेटकर कन्धों को कोहनियों के बल ऊंचे उठा लें तथा सिर भी ऊंचा रखकर सामने की ओर देखें। हाथ की हथेलियां आगे की ओर जमीन पर फैली रहें।

फिर दोनों टांगों को धीरे-धीरे उठाकर और पीठ की ओर से मोड़कर सिर के ऊपर लें जायें, जैसा कि संलग्न चित्र में दिखाया गया है।

इस क्रिया में उदर तक का भाग जमीन पर टिकेगा शेष जमीन पर मुड़ता चला जायेगा।

vrischikasana steps

ये भी पढ़े:- सूर्य नमस्कार की विधि और बारह अवस्थायें (चरण)

वृश्चिकासन के लाभ | Vrischikasana Benefits

बिच्छू जैसा आकार बनाने वाला यह आसन शरीर को लचीला बनाकर अत्यन्त शक्ति प्रदान करता है।

नोट-यह आसन निरन्तर अभ्यास करते रहने पर कई महीनों में जाकर सिद्ध होता है, अतः इसके लिये निरन्तर अभ्यास करते रहें।

ये भी पढ़े

शशांकासन योग विधि और लाभ

कपालभाती प्राणायाम के चमत्कारी फायदे

Add Comment