पीठ का फड़कना क्या संकेत देता है ?

पीठ का फड़कना (Pith ka Fadakna) -दोस्तों हमारे अंगो का फड़कना आम बात होती है लेकिन इनके फड़कने के कुछ न कुछ संकेत जरूर होता है। हर व्यक्ति की जानने की इच्छा होती है की हमारे कोनसे अंग हमे क्या संकेत देते है। जांघ का फड़कना क्या है

तो आज हम इस पोस्ट में पीठ का फड़कना (Pith ka Fadakna) क्या होता है और ये क्या संकेत देता है। जानेंगे पीठ का फड़कना हमे कोनसी घटना के बारे में संकेत देता है। आइये जानते है पीठ का फड़कना क्या है –

और ये भी पढ़े:- नाभि का फड़कना शुभ या अशुभ

पीठ का फड़कना | Fith ka Fadakna

Pith ka Fadakna kya hai

अधिकतर लोग समझ नहीं पाते की पीठ के फड़कने का मतलब क्या है। पीठ का फड़कना शुभ है या अशुभ होता है।

यदि आपकी पीठ का निचला भाग फडकता है तो इसका मतलब है की बहुत से मनुष्यों के अनुयायी बनने का आभास है।

व्यक्ति के पीठ के दायें और बायें भाग के फड़कने का फल भी अलग होता है। सामान्य रूप से पीठ फड़कने का मतलब है की शत्रु का नाश होता है, राज सम्मान की प्राप्ति होती है व आपके सभी काम सफल होने के संकेत देता है।

और ये भी पढ़े:- घुटने का फड़कने का मतलब

अगर आपकी पीठ का दाया हिस्सा फडकता है तो इसका मतलब है की आपको धन लाभ और ऐश्वर्य प्राप्ति होने वाली है।

और इसी प्रकार अगर आपकी पीठ का बायां हिस्सा फडकता है तो इसका मतलब है की आपको जीवन में कई प्रकार की समस्याओ का सामना करना पड़ सकता है। आप किसी विवाद में पड़ सकते है और इसके साथ ही मुकदमे में फसने की संभावना हो सकती है।

इसके साथ ही ये ही भाग किसी स्त्री का धीरे धीरे फड़के तो कन्या के जन्म की संभावना है। नाक का फड़कना शुभ या अशुभ

अगर पीठ का ऊपरी हिस्सा फड़कने का मतलब है की आपको धन लाभ होने की संभावना है। ये हिस्सा फड़कना बहुत ही शुभ है ।

ये शुभ और अशुभ पुरुषो के हिसाब से दिया गया है। स्त्रियों के मामले में दाया भाग बायां और बायां भाग दाया करके शुभ और अशुभ देख सकते है।

दोस्तों अगर आपको अगर ये पोस्ट पीठ का फड़कना अच्छी लगी तो हमें कमैंट्स जरूर करे। और अपने दोस्तों के साथ भी शेयर जरूर करे। धन्यवाद !

और ये भी पढ़े

गाल फड़कने का मतलब

ठुड्डी का फड़कना कैसा होता है ?

Add Comment