नाभि का फड़कना शुभ या अशुभ

नाभि का फड़कना (Nabhi ka fadakna) – नमस्कार दोस्तों स्वागत आपके हमारे ब्लॉग पर। अंगो का फड़कना हमारे जीवन में बहुत महत्व रखता है। हमारे शरीर के अंग बहुत ही सवेंदनशील है ये हमारे जीवन में होने वाली घटना के बारे में पहले ही संकेत दे देते है। घटना होने से पहले ही मनुष्य को सचेत कर देते है। हमारे जीवन में होने वाली घटनाये शुभ होती है और अशुभ भी होती है। होंठ का फड़कना शुभ या अशुभ

दोस्तों इस लेख में बात में करेंगे की नाभि का फड़कना (Nabhi ka fadakna) शुभ होता है या अशुभ होता है। जानेंगे ये कोनसी घटना के बारे में पहले ही संकेत देता है। आइये जानते है नाभि का फड़कने का मतलब क्या है –

और ये भी पढ़े:- घुटने का फड़कने का मतलब

नाभि का फड़कना | Nabhi ka fadakna

Nabhi ka fadakna kaisa hai

नाभि का फड़कना (Nabhi ka fadakna) अच्छा नहीं होता है। इस अंग के फड़कें का मतलब है की अगर स्त्री की नाभि फड़कती है तो स्वस्थ्य सम्बन्धी समस्या हो सकती है। स्त्री और लड़कियां की नाभि फड़कने का मतलब कष्टदायी हैऔर उनको स्वास्थ्य से सम्बंधित समस्या हो सकती है।

नाभि फड़कने का मतलब है की आप किसी प्रकार का रोग हो सकता है। इसलिए नाभि फड़कना हानि की और संकेत करता है। भौह फड़कना कैसा होता है

दोस्तों अगर आपको हमारी पोस्ट नाभि का फड़कना (Nabhi ka fadakna) अच्छी लगी हो तो हमें कमैंट्स करके जरूर बताये। और इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ भी शेयर जरूर करे।

और ये भी पढ़े

सिर का फड़कने का मतलब

नाक का फड़कना शुभ या अशुभ

Add Comment