Home / Food and Drink / High-Protein Diet: एक हेल्दी ब्रेकफास्ट मील के लिए बेस्ट पराठा रेसिपी
High-Protein Diet: एक हेल्दी ब्रेकफास्ट मील के लिए बेस्ट पराठा रेसिपी

High-Protein Diet: एक हेल्दी ब्रेकफास्ट मील के लिए बेस्ट पराठा रेसिपी

High-Protein Diet: एक हेल्दी ब्रेकफास्ट मील के लिए 5 बेस्ट पराठा रेसिपी- ‘संतुलित आहार'(balanced diet) पोषक तत्वों की एक सूचि है जिसे हमें इसे प्राप्त करने की आवश्यकता है। तीन सबसे महत्वपूर्ण मैक्रोन्यूट्रिएंट्स(macronutrients) हैं- प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट और वसा- और सूक्ष्म पोषक तत्वों की एक पूरी श्रृंखला, जो हमारे शरीर के कार्य को प्रभावी ढंग से करने में हमारी सहायता करता है। हमारे शरीर की विभिन्न और जटिल भूमिकाओं के लिए भी बहुत महत्वपूर्ण हैं।

Also Read:- अजवाइन है गुणों का खजाना,जानिए इसके 10 फायदे

स्वस्थ आहार(healthy diet) का पालन करने के तरीके को समझने का एक बड़ा हिस्सा पहले हमारे शरीर के लिए मैक्रोन्यूट्रिएंट्स (macronutrients) के महत्व को समझना है। प्रोटीन का निर्माण और मांसपेशियों को बनाए रखने के लिए आवश्यक होना, सबसे महत्वपूर्ण पोषक तत्वों(most important nutrients) में से एक है जिसे रोजाना अपने आहार में शामिल करना चाहिए।

प्रोटीन के स्वास्थ्य लाभ- (Health Benefits of Protein)

प्रोटीन आहार के आपके शरीर के लिए कई लाभ हैं, जिसमें मांसपेशियों का निर्माण और मरम्मत शामिल है। यही कारण है कि एथलीटों और बॉडी-बिल्डरों (athletes and body-builders) को अपने आहार में प्रोटीन की प्रचुर मात्रा की आवश्यकता होती है। मांसपेशियों को बनाए रखने के लिए एक उच्च-प्रोटीन (high-protein ) आहार महत्वपूर्ण है, जो दैनिक जीवन की अधिकता और उम्र बढ़ने के कारण प्रभावित हो सकता है। प्रोटीन हमारे शरीर के हर एक हिस्से में मौजूद होता है और यह उन एंजाइमों का निर्माण भी करता है जो शरीर में कई रासायनिक प्रतिक्रियाओं को शक्ति प्रदान करते हैं। प्रोटीन का सबसे अधिक पालन और स्वीकृत दैनिक अनुशंसित सेवन शरीर के वजन के प्रति किलोग्राम 0.8 ग्राम प्रोटीन है।

Also Read:- अंजीर खाने के फायदे(Anjeer Benefits in Hindi)

हालांकि, प्रोटीन से दैनिक कैलोरी का अनुशंसित प्रतिशत तय नहीं है और यह व्यक्ति के शारीरिक गतिविधि के स्तर पर निर्भर कर सकता है। आपका आहार प्रोटीन कहां से आता है, यह आपके स्वास्थ्य को भी प्रभावित करता है। कई अध्ययनों ने बताया है कि प्रोटीन पशु स्रोतों की तुलना में पौधे-आधारित प्रोटीन स्रोत आपके स्वास्थ्य के लिए बेहतर हैं।

प्रोटीन से भरपूर पराठा रेसिपी (Protein-Rich Paratha Recipes)

पराठा एक लोकप्रिय देशी नाश्ता है जो दुनिया भर में और इसके साथ भारतीयों द्वारा खाया जाता है। इस स्वादिष्ट नाश्ते के भोजन को प्रोटीन से भरपूर बनाने के कुछ आसान तरीके हैं। यहाँ कुछ प्रोटीन युक्त नाश्ते के विकल्प (पराठा रेसिपी) दिए गए हैं जिन्हें आप आजमा सकते हैं:

Also Read:- रोज सुबह अंकुरित चने खाने के बहुत सारे फायदे

1. सत्तू पराठा (Sattu Partha)

Sattu Partha

देशी gem, सत्तू, एक बहुत ही अच्छा स्वास्थ्य भोजन है जिसे आजकल घरो में बनाने लग गए है। अक्सर इसे देशी ऊर्जा पेय एक रूप में तैयार करने में उपयोग किया जाता है, सत्तू चने से तैयार किया जाता है और जो स्वस्थ आटे का एक संयोजन होता है जो इसे एक पौष्टिक नाश्ता के रूप में बना सकते है।

2. मटर पराठा (Matar Paratha)

Matar Paratha

एक अच्छी हरी मटर अच्छी गुणवत्ता वाले प्रोटीन से भरी हुई होती है। हरी मटर के 100 ग्राम हिस्से में 5 ग्राम प्रोटीन (as per USDA) और अच्छी मात्रा में आहार फाइबर होता है। मटर के पराठे(Matar Paratha) आपके नाश्ते को भरने और प्रोटीन से भरपूर बना सकते हैं।

Also Read:- आलू के औषधीय गुण जो करते है बहुत सी बीमारियों का इलाज

3. दाल पराठा (Dal Paratha)

Dal Paratha

दाल पौधे-आधारित प्रोटीन में सबसे अच्छे स्रोतों में से एक है। दाल की एक पूरी श्रृंखला है जिसे गेहूं के आटे में उपयोग किया जा सकता है और पराठे बनाये जा सकते है। कई भारतीय घरों में, पराठे बनाने के लिए बचे हुए दाल करी या दाल का उपयोग किया जाता है। आप दाल के पराठों को हरी पुदीने की चटनी और मसालेदार छाछ के गिलास के साथ उपयोग कर सकते हैं।

Also Read:- गेहू के ज्वारे का रस अनेक रोगो की दवा

4. कुट्टू पराठा (Kuttu Paratha)

Kuttu Paratha

कुट्टू एक प्रकार का अनाज है, और ये उपवास में खाने के रूप में जाना जाता है, लेकिन यह gluten-free आटा भी पोषण का एक बिजलीघर है। एक 100 ग्राम कुट्टू में 13 ग्राम प्रोटीन, 10 ग्राम आहार फाइबर (as per USDA) होता है। यह कैल्शियम से भी समृद्ध है, जो हड्डियों के स्वास्थ्य को बढ़ाने के लिए महत्वपूर्ण है।

अपने आहार में कितना प्रोटीन शामिल होना चाहिए, इसका बेहतर विचार पाने के लिए अपने आहार विशेषज्ञ या प्रमाणित पोषण विशेषज्ञ से सलाह लें।(To get a better idea of how much protein you should be including in your diet, consult your dietitian or a certified nutritionist.)

Also Read:- 

आंवले का उपयोग

हींग के गुणों को जानकर हो जायेंगे हैरान

रिफाइंड तेल खाने के नुकसान

अलसी बीज से पेट की चर्बी घटाएं

 

About admin

Check Also

धनिये का पानी पीने के फायदे

धनिये का पानी पीने के फायदे

साबुत धनिया, जीरा व सौंफ तीनो आधा आधा चम्मच और मिश्री एक चम्मच मिलाकर पीस …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *