डिप्रेशन को पहचाने और ऐसे बचें डिप्रेशन से

डिप्रेशन क्या है?

यह एक मानसिक स्थिति है जो पोस्टिव सोच को कम कर देती है। यह मन की भयंकर मनः स्थिति है। जब कोई इंसान डिप्रेशन में आता है तो सबसे पहले हमारी बुद्धि की कुशलता को कम करता है। क्योंकि जहा डिप्रेशन होगा वह कुशलता नहीं ठहर सकती।

डिप्रेशन जिसे हम तनाव भी कहा जा सकता है। व्यक्ति को डिप्रेशन किसी एक कारण से नहीं हो सकता इसके लिए कई कारण हो सकते है। डिप्रेशन की सबसे बड़ी वजह है चिंता और तनाव यानी दिमाग में केमिकल समस्या। इसके साथ ही यह साइकोलाजिकल कारण से भी होता है और फिज़िकल कारणों से भी हो सकता है। इनमे से किसी कारणों से हो पर बड़ा खतरनाक होता है डिप्रेशन।

जीवन की कुछ होने वाली घटनाये जिससे डिप्रेशन का आना स्वाभाविक है जैसे किसी नज़दीक़ी की मौत, नौकरी चले जाना या शादी का टूट जाना, आम तौर पर अवसाद की वजह बनते हैं। आजकल बहुत से लोग इस समस्या से पीड़ित है। डिप्रेशन हमारे जीवन की बहुत ज्यादा प्रभावित करता है। जितना हो सके डिप्रेशन से बचाना चाहिए।

और पढ़े- माइग्रेन से मिलेगा छुटकारा

डिप्रेशन को कैसे पहचाने

तनाव को पहचाने के कुछ लक्षण है जिनसे हम इसको पहचान सकता है।

  • स्वभाव से चिड़चिड़ा हो जाना।
  • रात को बार बार जगाना।
  • नींद का अच्छे से नहीं आना या नींद का काम आना।अनिंद्रा का शिकार होना।
  • छोटी छोटी बातो पर गुस्सा आना।
  • हमेश नेगेटिव सोचना और किसी बुरी बात होने का डर होना।
  • बिना किसी वजह के वजन का बढ़ाना या घटना।
  • किसी भी काम में मन न लगाना।
  • अधिकतर थकान जैसा महसूस करना।
  • मन का एकाग्र नहीं हो पाना।
  • कोई भी निर्णय ना ले पाना।
  • हर समय उदास रहना।

और पढ़े- सर दर्द को नहीं करे नजरअंदाज !

डिप्रेशन से कैसे बचे

इससे बचने के लिए सबसे पहले खुद को व्यस्थित कीजिये। सबसे पहले अपनी दिन चर्या और काम काज को व्यवस्थित कीजिये। डिप्रेशन से बचने के लिए उसका कारन जानना चाहिए और उससे बचाना चाहिए। डिप्रेशन को दौर करने का उपाय करना चाहिए।

बात करे

हम अतयधिक डिप्रेशन में है तो किसी से बात करने और मिलने का बिलकुल भी मन नहीं करता है। लेकिन ऐसी परिस्थिति में आपके परिवार जन या फिर दोस्त के साथ इस बारे में बात करनी चाहिए। अपने करीबी लोगो से अपनी समस्या शेयर करनी चाहिए।

व्यायाम करना

डिप्रेशन से बचने के लिए आप व्यायाम का सहारा भी ले सकते है। व्यायाम करना डिप्रेशन से बचने का बहुत अच्छा तरीका है। कसरत करने से सेरोटोनिन और टेस्टोस्टेरोन हार्मोन्स स्त्राव होता है जो हमारे दिमाग को स्थिर करने में मदद करते है। और इससे हमें पॉजिटिव एनर्जी भी मिलती है।

नकारात्म ना सोचे

हमेशा सकारात्म सोचे और नकारात्मकता से दूर रहे। हर चीज को सकारात्म नजरिये से देखे।

सामाजिक सक्रियता

डिप्रेशन को काम करने के लिए अपने आप को सामाजिक रूप से सक्रिय कर ले। हो सके तो धार्मिक और अन्य कार्यो में भी हिस्सा ले। इन सब कामो से आपका ध्यान डिप्रेशन से हटेगा।

अच्छी नींद ले

सकारात्मक ऊर्जा प्राप्त करने के लिए आपको एक अच्छी नींद की जरूरत है। अध्ययन के अनुसार 7 से 8 घंटे सोने वालो को डिप्रेशन काम होता है। अगर

साइनस का घरेलु उपचार ,

टॉन्सिल में संक्रमण चिंता की बात

Add Comment