सोते समय किन बातों का रखे ध्यान!

सोते समय इन बातो का ध्यान रखना चहिए

www.ourhealthtips.in

अछि नींद लेना हमारे सेहत के लिए बहुत सही रहता है। आराम की नींद कोंन नहीं सोना चाहता, हर ,एक इंसान आराम की नींद सोना चाहता है। परन्तु एक आराम की नींद सोने के बाद भी वो हमारे स्वस्थ्य और सेहत पर विपरीत प्रभाव डाल सकती है। आपको बतायंगे की वास्तु के विशेषज्ञों अनुसार गलत तरीको और गलत जगह सोने से वास्तु दोष बढ़ जाता और हमारे जीवन में प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है ।

  • दक्षिण दिशा में पांव करके नहीं सोना चाहिए अशुभ माना जाता है और दुष्टो का निवास होता है। दक्षिण दिशा में सर करके सोना चाहिए, धन और आयु की प्राप्ति होती है।
  • वैसे दिन में कभी नहीं सोना चाहिए पर ज्येष्ठ माह में आप कुछ देर के लिए सो सकते है।और सूर्योदय के बाद और शाम को भी कभी नहीं सोना चाहिए।
  • सोते समय इस बात का ध्यान रखना चाहिए की हमारे पैर दरवाजे के सामने नहीं चाहिए क्योंकि ऐसा होने पर घर में लक्मी नहीं आती और ऐसे सोना अशुभ भी माना जाता है।
  • लड़कियों को सोते समय बालो को खोलकर अनहि सोना चाहिए वो अशुभ माना जाता है, बाल बांधकर सोना चाहिए।
  • रात को सोते समय सिरहाने पर कभी भी पानी रखकर नहीं सोना चाहिए, क्योंकि ऐसा करने से कई प्रकार की मानसिक बीमारिया आजाती है।
  • कभी भी टूटी हुई खाट पर सोना नहीं चाहिए और झूठे मुँह नहीं सोना चाहिए।
  • कभी भी घडी को टाइम देखने के लिए तकिये के निचे या फिर बेड के सामने और बेड के पीछे रखकर नहीं सोना चाहिए क्योंकि ऐसा करने से हमेशा तनाव और चिंता में बना रहता है।
  • खाना खाते ही नहीं सोना चाहिए, सोने के दो घंटे पहले खाना खा लेना चाहिए।
  • दिन में दायी करवट और रात को सोते समय बायीं करवट लेकर सोना चाहिए।
  • बिस्तर पर बैठकर खाना नहीं खाना चाहिए।
  • छाती पर हाथ रखकर नहीं सोना चाहिए और छत की बीम के निचे नहीं सोना चाहिए।
  • पश्चिम में सिर करके सोने से चिंता और उतर में सिर करके सोने से हानि होती है।
  • पूर्व की तरफ सिर करके सोने से विद्या प्राप्त होती है।
  • शमशान में नहीं सोना चाहिए।
  • सोते समय हमें सिहरने के आस पास जूते चपल रखके नहीं सोना चाहिए।
  • अगर किसी को रत को सोते समय दर लगता है तो एक कपडे में पिले चावल बांध कर सोना चाहिए।

 

Add Comment