जाने ग्रीन टी के फायदे और नुकसान

आजकल लोग स्वास्थ्य के प्रति जागरूक हो गए है इसलिए ग्रीन टी को एक पेय के रूप में शामिल करने लग गए है। इसलिए ही ग्रीन टी की लोकप्रियता भी काफी बड़ी है। जिन लोगो को वजन कम करना है उनका तो पसंदीदा पेय है।
ग्रीन टी के पिने के फायदे बहुत है वजन कम करना और स्किन को चमकदार बनाना। वही ग्रीन टी ज्यादा पीना और कई गंभीर बीमारी में पीना भी नुकसान है। आपको ग्रीन टी के फायदे और नुकसान दोनों बताते है।

और ये भी पढ़े- गेहू के ज्वारे का रस अनेक रोगो की दवा

ग्रीन टी के फायदे:-

 

और ये भी पढ़े- जाने गर्मी में गन्ने का रस पिने के क्या फायदे है

बालो के लिए लाभदायक:-

ग्रीन टी बालो के लाभदायक है ये बालो को झड़ने से रोकती है। इसके अलावा बालो की ग्रोथ जल्दी होती है। ग्रीन टी बालो में होने वाले संक्रमण को भी रोकती है। ग्रीन टी में पोल्य्फेनोल्स, विटामिन सी, 5-अल्फ़ा रिडक्टेज और विटामिन इ पाए जाते है, जो बालों के विकास और बालो को मुलायम बनाने में असरदार है। इसमें पाली फेनोलास्टिक और टेस्टोस्टेरोन नामक पदार्थ बालों को झड़ने से रोकने में सहयोग करते है।

और ये भी पढ़े-  झड़ते बालों के लिए चमत्कारी उपाय

त्वचा के लिए लाभदायक:-

ग्रीन टी में एंटी-ऑक्सीडेंट बहुत पाया जाता है जिससे यह शरीर से विषाक्त पदार्थ को बाहर निकल देता है। और पेट साफ हो जाता है जिससे त्वचा दागरहित और कांतिमय बनती है।ग्रीन टी का आप आपकी त्वचा के अनुसार फेस पैक भी बना सकते है।

वजन कम करने के लिए:

इसका उपयोग वजन कम करने में भी सहयोग करती है। ग्रीन टी में अधिक मात्रा में केल्प होता है जिसमे अधिक मात्रा में खनिज और विटामिन होते है।यह मेटाबॉलिज्म के स्तर को नियंत्रित करता है, जिससे शरीर में मौजूद जरूरत से ज्यादा चर्बी और कैलरी को कम किया जा सकता है। ग्रीन टी शरीर में आवश्यक पोषक तत्व को संतुलित बनाये रखता है।

मधुमेह में लाभदायक:-

ग्रीन टी हमारे शरीर में उपस्थित गुलकोज के स्तर स्थिर बनाये रखता है।ग्रीन टी में पाए जाने वाले पॉलीफेनोल्स और polysaccharides प्रकार के पाए जाने वाले योगिक मधुमेह के दोनों प्रकार में लाभदायक है। यह रक्त शर्करा को नियंतरण करता है।

कोलस्ट्रोल को कम करना:-

कोलेस्ट्रॉल को कम करने के लिए प्रीतिदिन सीमित मात्रा में टी पीना लाभदायक है। ग्रीन टी खराब कोलस्ट्रोल को खत्म करने में सहयोग करता है। कोलस्ट्रोल ही मोटापा, मधुमेह और ह्रदय रोगो को अन्तरं कर सकता है।

रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाना:-

ग्रीन टी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में बहुत सहायक है। ग्रीन टी में एंटीऑक्सीडेंट के गुण पाए जाते है जो वायरल और बैक्टीरियल के हमले को रोकता है।

कैंसर को रोकना:-

कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी को रोकने में ग्रीन टी बहुत सहायक है। ग्रीन टी में उपस्थित फेनोलिक यौगिक ट्यूमर फैलने से रोकता है ।

ग्रीन टी पीने से नुकसान:-

 

और ये भी पढ़े- पानी पीने का भी तरीका होता है जरूर पढ़े!

वैसे बता दे की ग्रीन टी को अधिक मात्रा में उपयोग करने से बचना चाहिए क्योंकि इसमें कैफीन पाया जाता है। इसको दिन में दो कप से ज्यादा नहीं पीना चाहिए।

  • ग्रीन टी का अधिक सेवन से एनीमिया का खतरा बढ़ सकता है। जिनको एनीमिया की समस्या हो उनको ग्रीन टी के उपयोग से बचाना चाहिए।
  • गर्भवती महिला को ग्रीन टी के अधिक सेवन से बचाना चाहिए क्योंकि इसमें उपस्थित कैफीन गर्भपात और बच्चों में जन्म दोष का खतरा बढ़ा सकता है।
  • ये कैल्शियम के मात्रा बढ़ाता है जो मूत्र में फैल जाती है और जो शरीर के लिए नुकसान दायक है।
  • बहुत अधिक मात्रा में ग्रीन टी का सेवन करना डायरिया का खतरा बढ़ाता है।
  • मोतियाबंद से पीड़ित लोगो को ग्रीन टी के सेवन से बचना चाहिए। इससे आँखों पर दबाव बढ़ाता है।
  • अधिक मात्रा में ग्रीन टी पिने से सर दर्द हो सकता है। क्योंकि इसमें कैफीन की मात्रा होती है जो सिर दर्द दे सकता है।

तुलसी के उपयोग, आंवले का उपयोग

अजवाइन के फायदे, त्रिफला के फायदे और कैसे ले

पानी पीने का भी तरीका होता है जरूर पढ़े!

About admin

Check Also

side-effects-of-drinking-cold-water-in-hindi

जानें बहुत ज्यादा ठंडा पानी पीने से होने वाले नुकसानों के बारे में

पानी पीने के फायदों(pani peene ke fayde) के बारे में तो सब जानते हैं लेकिन …