Home / योग / उष्ट्रासन | Ustrasana Benefits | Yoga Pose
उष्ट्रासन | Ustrasana Benefits | Yoga Pose

उष्ट्रासन | Ustrasana Benefits | Yoga Pose

आसन का अर्थ

Ustrasana Benefits | Yoga Pose- इस आसन को करते समय वयक्ति के शरीर की मुद्रा ऊंट के समान हो जाती है, अतः इस आसन को उष्ट्रासन(Camel pose) कहते है।

ये भी पढ़े:- धनुरासन कैसे करें | Dhanurasana Benefits

आसन की मुद्रा

इस आसन में पैरो को घुटनो से मोड़कर पीछे की और झुकाकर दोनों हाथो से पैरो को पकड़ते है।

ये भी पढ़े:- प्राणायाम के कुछ आवश्यक नियम और निर्देश

आसन मुद्रा के समय सावधानी

कमर को पीछे की ओर झुकाने में सावधानी रखनी चाहिए। आसनो से दूर करे कमर और पीठ का दर्द

आसन करने का समय

प्रारम्भ में यह आसन सरतापूर्वक एक बार करना और बाद में इस 3-4 बार तक करना चाहिए।

ये भी पढ़े:-बद्धपदमासन: विधि और फायदे

आसन से लाभ- Ustrasana Benefits

  • शरीर में रीढ़ की हड्डी व उंगलिया लचीली व मजबूत बनती है। साथ ही कमर सुडोल होती है।
  • गले की ग्रंथियों के दोष दूर होते है और पेट का मोटापा दूर होता है।
  • इस आसान में ध्यान लगाने से वयक्ति की मानसिक शक्ति बढ़ती जाती है।

ये भी पढ़े:-योग के कुछ नियम जाने कब करे और कब नहीं करे

आसन करने की विधि- Yoga Pose(Camel pose)

उष्ट्रासन(Camel pose) ,yoga pose

  • वज्रासन की मुद्रा में बैठे जाये, फिर खड़े हो जाये।
  • दोनों घुटनो के बिच इतना फासला रखे की वे की चौड़ाई के समानांतर हो।
  • दोनों हाथो को कमर पर रखे। हाथ की मुद्रा ऐसी हो की उंगलियों पेट की तरफ हो और अंगूठे रीढ़ की हड्डी पर मिलकर कस जाये।
  • लम्बी साँस खींचे। अब कमर से ऊपर का हिस्सा घुटनो के सामानांतर मुड़ने लगे, वो दोनों हथेलियों को तलुवों पर ले आयें। जब तक साँस रोक सके, इस स्थति में रहे, फिर सीधे हो जाये।
  • साँस छोड़े और फिर इसे करे। आसन करते समय ध्यान रीढ़ की हड्डी पर लगाना चाहिए।
ये भी पढ़े:-

सिध्दासन: असानो में श्रेष्ठ आसन

भ्रूणासन करने की विधि और लाभ

मन अशांत है तो करे पद्मासन

गोमुखासन क्या है- our health tips

About admin

Check Also

बद्धपदमासन: विधि और फायदे

बद्धपदमासन क्या है :- बद्ध का अर्थ होता है बांधना। पदमासन की मुद्रा बनाकर हाथ …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *