हींग का अनेक रोगो में घरेलु उपाय

हींग का उपयोग का खाने में स्वाद के लिए ही नहीं किया जाता है। ये कई प्रकार के रोगो में उपयोगी है इसे हम घरेलु दवाई भी कह सकते है। हींग में प्रोटीन, फाइबर, कार्बोहाइड्रेट, कैल्शियम, फोस्फोरस, आयरन, कैरोटीन उपस्थित होता है। हींग एक तरह से एंटीबॉयटिक है। हींग औषधीय गुणों से भरपूर है इसका घरेलु नुस्खे से कई प्रकार के रोग ठीक कर सकते है।

और ये भी पढ़े-हींग के गुणों को जानकर हो जायेंगे हैरान

पेट के रोग में:-

आपको पेट से जुडी समस्या जैसे- पेट में होने वाली अपच, जलन, गैस, कब्ज ,पेट के कीड़े और पेट फूलना है तो आप तो एक कप पानी ले और इसमें थोड़ी सी हींग मिला ले। और इस पानी को आप भोजन करने की बाद पिए। ऐसा आप रोजाना करे आराम मिलेगा।

पेट में गैस और पेट दर्द होने पर आप हींग, अजवाइन, और काला नमक मिलाकर गुनगुने पानी के साथ ले आराम मिलता है। यदि छोटे बच्चे के भी पेट में दर्द है तो आप गुनगुने पानी में थोड़ी सी हींग घोलकर नाभि पर लगाए।

आप भोजन में भी हींग का इस्तेमाल कर सकते है इसका सब्जी में तड़का लगाए।

यदि आपको अपच है, भूख खुलकर नहीं लगती और पेट फूलता है तो – हींग, अजवाइन, छोटी हरड़ और सेंधा नमक चारो बराबर मात्रा में लेकर पीस लें और इस मिश्रण का आधा चमच्च दिन में तीन बार गर्म पानी के साथ लें।

और ये भी पढ़े-गेहू के ज्वारे का रस अनेक रोगो की दवा

कान के रोग में:-

कान में दर्द होने पर नारियल के तेल को गर्म को फिर इसमें चुटकी भर हींग डाल दे। अब ये तेल कान में डालने से कान के दर्द में आराम मिलता है। नारियल के तेल के बदले आप सरसो के तेल का भी उपयोग कर सकते है।

सरसो के तेल को गर्म करके इसमें हींग, धतूरा के रास और मूली के बीजो को फ्राई कर ले।इसको छान ले और अब इस तेल को कान में डालने से कान का दर्द और बहरेपन को ठीक करता है।

और ये भी पढ़े-जाने ग्रीन टी के फायदे और नुकसान

दांत के दर्द में:-

यदि आपके दांत में दर्द है तो आप हींग का छोटा टुकड़ा दांत में दबा ले इससे दांत का दर्द तुरंत ठीक हो जायेगा।

गुनगुना पानी ले और इसमें थोड़ा सा हींग का चूर्ण डालकर कुल्ला करने से दांत के दर्द में आराम मिलता है।

सर दर्द में:-

आजकल भाग दौड़ की जिंदगी में सर दर्द और माइग्रेन का सामना हर किसी को करना पड़ता है। हींग को गर्म कर इसका लेप सर पर लगाए इससे सर दर्द दूर होगा।

हींग को एक गिलास गर्म पानी में उबाले और इस पानी का दिन में दो तीन बार पिए सर दर्द में आराम मिलेगा। या फिर थोड़ा सा हींग पानी में घोलकर सर पर लगा ले।

यदि आपको आधासीसी का सर दर्द है तो हींग को पानी में घोलकर कुछ बून्द नाक में डाले।

और ये भी पढ़े-जाने गर्मी में गन्ने का रस पिने के क्या फायदे है

कैंसर में :-

हींग में एंटीऑक्सीडेंट पाया जाता है जो शरीर में कोशिकाओं की वर्द्धि को नियंत्रण करता है। ये फ्री रेडिकल्स से शरीर की कोशिकाओं का बचाव करती है। और एंटी कोसिनोजेनिक प्रॉपर्टी पाई जाती है जिससे शरीर में कैंसर कोशिकाओं के विकास को रोकता है। इसलिए हींग का नियमित उपयोग करना चाहिए।

हिचकी में:

आपको हिचकी ज्यादा आ रही है तो आप पुराने गुड़ के साथ हिंग खाने से हिचकी बंद हो जाती है ।

त्वचा संबंधी रोगो में:-

हींग में आधीक मात्रा में एंटी-इनफ्लैमोटरी तत्व पाया जाता है इसलिए स्किन केयर के बनाने वाले उत्पाद में मिलाया जाता है। हींग से त्वचा की जलन और कॉर्न्स जैसी समस्याओं और अन्य त्वचा की समस्या के लिए जो बैक्टीरिया होता उसको खत्म करता है।

यदि फोड़ा, फुंसी, मुहासे और दाद आदि हो तो इसमें आप नीम की कोपल ले और हींग मिलाकर पीस कर लगाए ये ठीक हो जायेंगे।

सर्दी जुखाम, कफ और अस्थंमा में:-

कफ के लिए हीग के साथ आप शहद और अदरक को मिलाकर इसका उपयोग करे बहुत फायदा करता है। इसके उपयोग कुकर खाँसी में भी लाभदायक है।

एक चुटकी हींग को पानी में घोलकर सूंघने से सर्दी जुखाम में लाभ मिलता है। इसके उपयोग से सांस लेने मे दिक्कत नहीं आएगी।

आप दो चम्मच शहद ले और इसमें आधा चम्मच अदरक का रस और आधा चम्मच हींग मिलकर लेने से सर्दी जुखाम और सुखी खासी में आराम मिलता है।

और ये भी पढ़े-तुलसी के उपयोग

पुरषो और महिलाओ सम्बंधित समस्याओ में:-

हींग का उपयोग महिलाओ से समन्धि रोगो में किया जा सकता है। हींग में मौजूद एंटी-इनफ्लैमोटरी तत्व पीरियड्स से जुड़ी सभी तकलीफों जैसे कि क्रैंमप्स,अनियमित पीरियड्स या पीरियड्स के दौरान होने वाले दर्द में आराम देता है। इसके लिए आप थोड़ी सी हींग, एक डेढ़ चमच्च मेथी पाउडर और थोड़ा सा नमक छाछ में मिलकर पिए।

पुरषो में योन सम्बन्धी विकार जैसे नपुसंकता, शुक्राणुओं की कमी, शीघ्रपतन और स्पर्म की कमी में भी हींग का उपयोग किया जाता है। खाने में हींग का नियमित प्रयोग करे। या फिर एक गिलास गर्म पानी में हींग मिलाकर पिने से खून का दौरा बढ़ जाता है।

मासिक धर्म से जुडी समस्या में:-

मासिक धर्म में होने वाले दर्द से पीड़ित हो तो आप को 240mg हींग को पानी में घोलकर नियमित रूप से पिए। या फिर आधा ग्राम भुनी हींग पानी के साथ माहवारी चालू हो उस दिन से तीन दिन तक लेना चाहिए।

माहवारी नियमत रूप से नहीं आती हो तो हींग का सेवन करना चाहिए।

पानी पीने का भी तरीका होता है जरूर पढ़े!,    आंवले का उपयोग

अजवाइन के फायदे, गर्मी में इन तरीको से रखे स्किन का ख्याल

Add Comment